रेलवे संकेतन

भारतीय रेलवे स्टेशनों के लिए सीईएल सौर ऊर्जा पैनल

रेलवे यातायात का दक्ष परिचालन व नियंत्रण, देश में परिवहन के सबसे बडे साधनों में से एक रेलवे में, अनियमित ग्रिड की आपूर्ति से अक्सर यातायात भीड़ हो जाती जिससे जनता को अत्‍यन्‍त असुविधा होती है व रेलवे परिचालन लागत में वृद्धि होती है । ग्रिड आपूर्ति की प्रतिपूर्ति हेतु डीजल जनरेटर सेट के उपयोग के द्वारा वैकल्पिक साधन से विचारणीय लाजिस्टिक समस्‍याएं आती हैं। आापात स्थिति में उपयोगी साधन के रूप में अतिरिक्त डीजी सेट की आवश्‍यकता होती है व इनकी रखरखाव लागत भी काफी होती है। डीजल तेल को अत्यधिक लागत पर दूर दराज के स्थान तक ले जाना होता है। डीजल तेल की चोरी का भी खतरा होता है। इस प्रकार यह विकल्प वायुमंडल को प्रदूषण क्षति पहॅुचाने वाला व बहुत महंगा हो जाता है। सीईएल एक दशक के अनुसंधान और इस में अनुभव के परिणाम स्‍वरूप सीईएल द्वारा सौर फोटोवोल्टिक ऊर्जा शक्ति स्रोत लाया गया है, जो बहुतायत से उपलब्ध एवं प्रदूषण रहित है। सीईएल की एसपीवी ऊर्जा प्रणाली, जिसमे भंडारण बैटरियां एवं सौर फोटोवोल्टिक ऐरे नियंत्रण इलेक्ट्रॉनिक्स भारतीय रेलवे के पैनल स्टेशन के लिए, सबसे अच्छा वैकल्पिक ऊर्जा स्रोत प्रदान करता है।

 

रेलवे के पैनल स्टेशन के लिए एक विशिष्ट एसपीवी ऊर्जा स्रोत निम्‍न प्रकार हैं: 

  • एक सौर फोटोवोल्टिक ऐरे
  • एक बैटरी बैंक
  • एक इलैक्ट्रॉनिक नियंत्रण इकाई एवं पैनल